DaasRajinder (@DaasRajinder)


#श्राद्ध_क्यों_न_करें♦️परमात्मा कबीर जी समझाते हैं कि हे भोले प्राणी! गरूड़ पुराण का पाठ उसे मृत्यु से पहले सुनाना… https://t.co/fdk2oVVdWu
#श्राद्ध_क्यों_न_करें♦️श्राद्ध आदि-आदि शास्त्रविरूद्ध क्रियाऐं झूठे गुरूओं के कहने से करके अपना जीवन नष्ट करते हैं।… https://t.co/rTcbgAS44z
#श्राद्ध_क्यों_न_करें♦️सूक्ष्मवेद (तत्वज्ञान) में तथा चारों वेदों (ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद तथा अथवर्वेद) तथा इन चा… https://t.co/yhGAC3tG3o
#TruthOfShraadh♦️जै सतगुरू की संगत करते, सकल कर्म कटि जाईं। अमर पुरि पर आसन होते, जहाँ धूप न छाँइ।। सन्त गरीब दास… https://t.co/B592dkmpz1
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से उपदेश लेकर कबीर साहेब जी की भक्ति करने से सतलोक की प्राप्ति… https://t.co/2Vtt9nOsnR
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से उपदेश लेकर कबीर साहेब जी की भक्ति करने से सतलोक की प्राप्ति… https://t.co/AZIwiHqug3
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से उपदेश लेकर कबीर साहेब जी की भक्ति करने से सतलोक की प्राप्ति… https://t.co/ALSAvfmbeZ
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से उपदेश लेकर कबीर साहेब जी की भक्ति करने से सतलोक की प्राप्ति… https://t.co/aH4EMWSmKc
#TruthOfShraadh♦️प्रेत (भूत) पूजा तथा पितर पूजा उस परमेश्वर की पूजा नहीं है। इसलिए गीता शास्त्र के अनुसार व्यर्थ है… https://t.co/eUHOvnar7t
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत (गीता अ-4 श्लोक-34) से दीक्षा लेकर शास्त्रविधि अनुसार सतभक्ति करने वाले परमधाम सतलोक… https://t.co/XahrR3bf85
#TruthOfShraadh♦️ मृत्यु के पश्चात् की गई सर्व क्रियाऐं गति (मोक्ष) कराने के उद्देश्य से की गई थी। उन ज्ञानहीन गुरू… https://t.co/HydbfWJ4BV
#TruthOfShraadh♦️कबीर परमेश्वर जी ने बताया है कि जीवित पिता को तो समय पर टूक (रोटी) भी नहीं दिया जाता। मृत्यु के प… https://t.co/3BrP8TWprJ
#TruthOfShraadh♦️कबीर परमेश्वर जी ने बताया है कि जीवित पिता को तो समय पर टूक (रोटी) भी नहीं दिया जाता। मृत्यु के प… https://t.co/Fa46RSdzh8
#TruthOfShraadh♦️तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से उपदेश लेकर कबीर साहेब जी की भक्ति करने से सतलोक की प्राप्ति… https://t.co/YGoA6xdoe8
♦️प्रेत (भूत) पूजा तथा पितर पूजा उस परमेश्वर की पूजा नहीं है। इसलिए गीता शास्त्र के अनुसार व्यर्थ है।#TruthOfShraadh https://t.co/nUIkeszmsY
♦️प्रेत (भूत) पूजा तथा पितर पूजा उस परमेश्वर की पूजा नहीं...
#TruthOfShraadh♦️प्रेत (भूत) पूजा तथा पितर पूजा उस परमेश्वर की पूजा नहीं है। इसलिए गीता शास्त्र के अनुसार व्यर्थ है… https://t.co/RV1cdui6K5
#TruthOfShraadh♦️प्रेत (भूत) पूजा तथा पितर पूजा उस परमेश्वर की पूजा...
RT @Bhuvane62711234: ♻️धार्मिक मान्यता अनुसार प्रत्येक काम आरम्भ करने से पहले गणेश जी की वंदना करते हैं पर शास्त्रों के अनुसार आदि गणेश अ…
RT @Bhuvane62711234: ♻️धार्मिक मान्यता अनुसार प्रत्येक काम आरम्भ...
#TruthOfShraadh♦️मार्कण्डेय पुराण में श्राद्ध कर्म को अविद्या कहा है। ये शास्त्र विरुद्ध है। अधिक जानकारी के लिए सा… https://t.co/mN1wyIJKYp
#TruthOfShraadh♦️मार्कण्डेय पुराण में श्राद्ध कर्म को अविद्या...
RT @RupaliThakare18: #TruthOfShraadh श्राद्ध करने वाले पुरोहित कहते हैं कि श्राद्ध करने से वह जीव एक वर्ष तक तृप्त हो जाता है। फिर एक वर्ष…
RT @RupaliThakare18: #TruthOfShraadh
श्राद्ध करने वाले पुरोहित कहते हैं कि...
RT @Shalumehta95: #GodMorningThursday कबीर, ऐसा यह संसार है , जैसा सिंबल फूल । दिन दस के व्यवहार में , झूठे रंग न भूल ।…
RT @Shalumehta95: #GodMorningThursday
कबीर, ऐसा यह संसार है , जैसा सिंबल फूल ।
            ...

close